31+ Best Christmas Day Poem In Hindi | क्रिसमस पर कविता

Merry Christmas Day Poem in Hindi :- क्रिसमस का त्योहार ईसा मसीह के जन्म की खुशी में हर वर्ष 25 दिसम्बर को मनाया जाता है। क्रिसमस पर लोग एक दूसरे को उपहार देते हैं, चर्च में समारोह होते हैं और सजावट की जाती है। इस सजावट में क्रिसमस का पेड़, रंग बिरंगी रोशनियाँ, घंटियां, क्रिसमस स्टार, ईसा मसीह की जन्म के झाँकी आदि शामिल होता हैं। भारत में भी क्रिसमस का त्योहार हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है। हम इस खास मौके पर क्रिसमस डे पर बहुत ही सुन्दर कविता लेकर आएं हैं। इन कविताओं को अपने दोस्तों के साथ अवश्य साझा करें। आप सभी को क्रिसमस डे पर हार्दिक शुभकामनाएं।

क्रिसमस-डे

Poem On Christmas Day

आओ बच्चों सारे मिलकर,

क्रिसमस-डे मनाएंगे।

खूब सारे खिलौने टॉफी,

मिलकर के हम खाएंगे।।

नये-नये खिलौने देख कर,

बच्चे खुश हो जाते हैं।

खेल-खिलौना खेल खेल कर,

खुशियाँ मन में लाते हैं।।

लाल-लाल कुर्ता पैजामा,

टोपी लाल लगाते हैं।

सफेद मूंछ लगाकर के वह,

पास सभी के जाते हैं।।

ग्रीन-ग्रीन क्रिसमस-ट्री देखकर,

सारे खुश हो जाते हैं।

नये करतब दिखाते सारे,

बच्चे गाना गाते हैं।।

नये साल पर नया सन्देश,

सांता देकर जाते हैं।

खूब बजाते ताली बच्चे,

मिलकर धूम मचाते हैं।।

-प्रिया देवांगन

प्यारे संता आ जाओं

Christmas Poem in Hindi

सूखा बीता वर्षा आयी,

संग में बड़ी तबाही लायी।

हिमालय ने ली अंगड़ाई,

उत्राखंड की नींव हिलाई।

पीछे-पीछे फाइलीन आया,

संकट का बादल मंडराया।

सब संकट दूर भाग जाओ,

मेरे प्यारे संता आ जाओ।

न गुड़िया न मिठाई लाना,

पर तुम जल्दी आ जाना।

दुख का अंधेरा मिटा जाओ,

खुशी की धूप फैला जाओ।

जिंगल बेल सुना जाओ,

मेरे प्यारे संता आ जाओ।

-अमित कुमार मिश्र

क्रिसमस डे

Christmas Poem in Hindi

गिरजाघर मे बजी घंटियां,

घर-आंगन मे खुशियां छा गयीं।

महाप्रभु ईसा मसीह की यादें,

सबके मन को हर्षा गयीं।

सुंदर सजे क्रिसमस के वृक्ष,

दिखते हैं कितने अनूठे।

खिलौने लाया सांता क्लॉज,

ध्यान खींचे है अपनी ओर।

नव-उमंग तन-मन को भाया,

ईसा मसीह का हो रहा गुणगान।

मानव कल्याण के लिए जिन्होंने,

कर दिया अपना जीवन बलिदान।

क्रिसमस डे की मधुर बेला में,

प्रार्थना में मग्न हुए हैं सारे।

ईसा से पाकर ज्ञान अमृत,

हम सब अपनी जिंदगी संवारे।

-नीरज कुमार

मैरी क्रिसमस

Christmas Poem in Hindi

क्रिसमस की बात है खास,

दूर नहीं अब है ये पास।

चाहे मुसलिम, चाहे हिंदू,

या हो सिख-ईसाइ।

एक-दूजे को तोहफे देकर,

सबने केक-मिठाई खायी।

सांता की जब होती आहट,

होती चेहरे पर मुस्कुराहट।

बांटता है वो सबको खुशियां,

क्रिसमस ट्री को खूब सजाएं,

मिलजुल कर हम जिंगल गाएं।

-कुमारी सलोनी

खुशियों का क्रिसमस

Christmas Poem in Hindi

वर्ष में एक बार आता है क्रिसमस,

लहर खुशी की लाता है क्रिसमस।

प्रभु ईसा की याद दिलाता है यह,

मन को पावन बनाता है क्रिसमस।

भाईचारा-प्रेम का संदेश देता है यह,

धरती को सुख से भरता है यह,

बलिदान देना सिखाता है यह।

-अमन

सुनो सांता

Poem On Christmas Day

सुनो सांता,

चलो ठीक है खेल-खिलौने।

लाओगे ही, ले आना पर,

छोटा-सा बस्ता भी लाना।

जिसमें रख लेना कुछ अक्षर,

जिंगल-विंगल सीख-साख के।

गाके-वाके है हमको भी,

तुमको अपने साथ नचाना।

सुनो सांता,

इस क्रिसमस पर।

जो हम बोलें देखो बस तुम,

वह ही लाना।

-सीमा अग्रवाल

आया क्रिसमस

Poem On Merry Christmas Day In Hindi

आया 25 दिसंबर भाया,

ईसा मसीह का जन्मदिन आया।

क्रिसमस की तैयारी है,

हुई सजावट भारी है।

चमक-दमक बाजारों में,

तड़क-भड़क उपहारों में।

रंग-बिरंगे गुब्बारों से,

क्रिसमस ट्री को खूब सजाया।

गिरजाघर की छवि है बाकी,

गौशाला की सुंदर झांकी।

प्रभु आयेंगे धरती पर,

खुशियां लायेंगे घर-घर।

दाढ़ी श्वेत, नुकीली टोपी,

सांता क्लॉज का रूप लुभाया।

ईसा मसीह का जन्मदिन आया।

-गौरीशंकर वैश्य

आया क्रिसमस

Merry Christmas Day Par Kavita

सज-संवरकर क्रिसमस आया,

स्कूल के परिसर में,

बच्चों की टोली आयी,

सांता क्लॉज की टोपी लायी।

लालहाथ में छड़ी लिये,

लाल रंग की कपड़ों वाली।,

सांता क्लॉज की टोली आयी

बड़ा दिन की छुट्टी लाया।

घर पर क्रिसमस ट्री सजाने को,

एक सुनहरा मौका लाया।

छोटे-बड़े सब एक होकर,

सांता क्लॉज की टोली आयी,

संग अपने खुशियां लायी।

-नितेश कुमार सिन्हा

क्रिसमस का त्योहार

Merry Christmas Day Par Poem

सबके मन में खुशियां अपार,

आया है क्रिसमस का त्योहार।

सभी बच्चे हैं इसके लिए तैयार,

यह पर्व है बड़ा ही मजेदार।

आया है क्रिसमस का त्योहार,

भूल जाएं हर रिश्ते की दरार।

सभी बांटे एक-दूजे को प्यार,

करें हम सभी अच्छा व्यवहार।

सबके जीवन में सांता लाएं बहार,

आया है क्रिसमस का त्योहार।

सांता से मांगता हूं ऐसा उपहार,

जिससे खत्म हो दुनिया में,

व्याप्त आतंकवाद का अत्याचार,

शांति, सुव्यवस्था का हो प्रसार।

आया है क्रिसमस का त्योहार,

बच्चों को यह त्योहार है भाता।

सुमार्ग पर चलने का संदेश लाता,

भगवान ईसा की याद दिलाता।

खत्म हुआ बड़े दिन का इंतजार,

आया है क्रिसमस का त्योहार।

-अंकित कुमार

आया क्रिसमस

Merry Christmas Day Poem

बचपन की घड़ियां हैं थोड़ी,

और नेह के ये प्रतिपल।

आ गया सांता क्लॉज का दिन,

बाकी सब लगे यूं ही छल।

सांता क्लॉज से जो विश मांगे।

पूरी हो जाये सारी मुरादें,

और हमें तोहफे भी,

खूब मिल जाये।

हम बच्चों की यह है विश,

खाएं हम रोज रंग-बिरंगे डिश।

-रोशनी कुमारी

अनोखा उपहार

Christmas Day Poem in Hindi

आया क्रिसमस का त्योहार,

सांता लायेंगे ढेरों उपहार।

हम बच्चों में खूब उमंग,

बांटे खुशियां सबके संग।

देख रहा है सारा अंबर,

बड़ा दिन है 25 दिसंबर।

देखो आ गये सांता हमारे,

गिफ्ट लाये हैं प्यारे-प्यारे।

खूब करेंगे बातें सारी,

बातें भी कितनी हैं प्यारी।

यह त्योहार तो बड़ा मजेदार,

क्रिसमस का यह अनोखा उपहार।

-सम्राट समीर

प्यारा सांता

Poem On

देखो आ रहा है प्यारा सांता,

सबसे न्यारा मेरा सांता।

हर क्रिसमस में आता है,

सबका दिल बहलाता है।

न गिफ्ट दे जाता मेरे मन का,

देखो आ रहा प्यारा सांता।

इनके जरा कपड़े भी देखो,

लाल कुरता और लाल टोपी में।

लग रहा कितना खूबसूरत,

आ जा, आजा मेरे सांता।

देखो आ रहा प्यारा सांता,

सबसे न्यारा मेरा सांता।

-प्रशांत कुमार

आया सैंटा

Poem On 

क्रिसमस के मौके पर,

देखो-देखो आये सैंटा।

ढेर सारे लाये हैं खिलौने,

कुछ बड़े तो कुछ हैं बौने,

सभी मुझे बेहद हैं भाते।

काश सैंटा रोज आते,

हम बच्चों को लगते प्यारे।

उनका घर है चांद-सितारे,

उड़ कर आते उड़न-खटोला से।

खुशियां बांटते अपने झोला से,

सबके दुख को करते दूर।

मस्तियां भी रहती भरपूर,

दिल का न है कोई गरीब,

क्योंकि सैंटा दिल के करीब।

-सम्राट समीर

आया क्रिसमस

Poem On

क्रिसमस आया, क्रिसमस आया,

खुशी, उमंग लोगों में छाया।

ईसा का जन्मदिन मनानें,

उमड़ा सारा दुनिया संसार।

रोशन होने लगी इमारतें,

क्रिसमस ट्री पर रौनक छाया।

लाल सूट, सफेद दाढ़ी,

पीठ पर लादे बड़ा-सा थैला।

बच्चों को रिझाता आया,

खिलौने और चॉकलेट लाया।

देखो-देखो सैंटा आया,

बड़ा है यह पावन त्योहार।

शुक्रगुजार हैं ईसा के जिसने,

मानवता का पाठ पढ़ाया।

केक खाओ मिठाइयां बांटो,

क्रिसमस आया, क्रिसमस आया।

-पूनम गुप्ता

मेरी क्रिसमस

Poem On School

बोला सबने क्रिसमस आया,

घर में कैसे चहल-पहल है।

कैसे हर्षित हर एक पल है,

क्यों आये ये प्यारे-प्यारे,

खेल-खिलौने इतने सारे।

खाये मिल कर भाई-भाई,

घर में इतनी सारी मिठाई।

डेविड, मोहन, मोहसिन, राणा,

लगा है सबका आना-जाना।

रात से एलिन जागी हुई है,

घर में किसने टॉफी लाया,

बोला सबने क्रिसमस आया।

-जियाउर रहमान

मन की विश

Poem On

लेकर आना अबकी सैंटा,

लेकर आना अबकी सैंटा।

चीजें मेरे मन की,

मेरे दादा जी रहते हैं।

खांसी से परेशान बहुत,

सांस धौंकनी-सी चलती है।

सुबह, दोपहर, शाम बहुत,

ऐसी दवा उन्हें दे देना।

पीर हरे जो तन की,

लेकर आना अबकी सैंटा।

चीजें मेरे मन की,

दादीजी की झुकी कमर।

जो बहुत दुखे जाड़े में,

एक कदम भी चलना दूभर।

ऐसा कुछ कर देना,

लौटें खुशियां फिर जीवन की।

लेकर आना अबकी सैंटा,

चीजें मेरे मन की।

नन्ही-सी मुनिया के,

पासन कोई खिलौना।

बिन पैसे के कैसे पाये,

बंदर,भालू, बौना।

इतने पैसे उसको देना,

कमी न हो फिर धन की।

लेकर आना अबकी सैंटा,

चीजें मेरे मन की।

-डॉ देशबंधु शाहजहांपुरी

क्रिसमस का त्योहार

Poem On 

ईसा मसीह का जन्मदिवस,

क्रिसमस का त्योहार है।

प्रभु ईसा का जन्म,

बुराई पर अच्छाई का वार है।

जब बढ़ गयी थी,

इस दुनिया में।

पाप, अहिंसा और अत्याचार,

तब प्रभु ने जन्म लिया।

लेकर ईसा मसीह का अवतार,

मानव जाति की रक्षा करना।

यही मकसद था उनका,

प्रेम अहिंसा और सदाचार।

यही था उनका कहना,

क्रिसमस में चॉकलेट, मिठाइयां।

और उपहार बांटते,

आपस में प्रेम से रहना।

-ममता रानी

Leave a Comment