Top 21+ Best Poem On Road Safety In Hindi | सड़क सुरक्षा पर कविता

नमस्कार साथियों आज के पोस्ट में हम यहां पर आसान भाषा में सुंदर और बेहतरीन सड़क सुरक्षा पर कविता (Top 19+ Best Poem On Road Safety In Hindi) लेकर आए हैं। हमलोग सड़क पर चलते समय कुछ गलतियों के कारण हमें भारी नुक़सान उठाना पड़ता है। हमें सड़क सुरक्षा नियम का सही से पालन करना चाहिए। इस खास मौके पर हमनें यहां बेहतरीन कविताएं आपके साथ साझा कर रहा हूं। हम उम्मीद करते हैं कि यह सभी कविताएं आपको पसंद आएगी। धन्यवाद!!! 

सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा

Poem On Road Safety

बच्चो, सड़क पार जब करना,

इतनी बात ध्यान में रखना ।

पहले अपने दाऍं देखो,

फिर तुम अपने बाएँ देखो।

फिर से देखों दाएँ-बाएँ,

अगर जो मोटर-गाड़ी आएँ।

हॉर्न, घंटी पड़े सूनाई,

रूक जाना तब मेरे भाई।

जब यह सड़क साफ दिख जाए,

मोटर- गाड़ी नजर न आएं।

तभी संभल कर करना पार,

कहलाओगे तुम होशियार।

सड़क सुरक्षा पर कविता

Poem On Road Safety In Hindi

सड़क सुरक्षा के नियम मानिए,

इनका कुछ रखिए ज्ञान।

तेज गति से वाहन न चलाइए,

इस बात का रखिए ध्यान।

जरूरी कागज साथ रखिए,

लाल लाइट पार न करिए।

हरी लाइट से आगे बढ़िए,

सड़क सुरक्षा का महत्व समझिए।

दुर्घटनाओं से रखिए दूरी,

सड़क सुरक्षा है बहुत जरूरी।

सड़क पार सुरक्षा

Poem On Road Safety In Hindi

मम्मी पापा के साथ तुम चलो,

हाथों में हाथ डाल के चलो।

जब भी सडक तुम पार करो,

सड़कों पे कार का आवाजें सूनो।

पार करने के समय तू दौड़ना नहीं,

ज़ेबरा क्रासिंग तू देख तो सही।

हरे सिग्नल की तू परीक्षा कर,

दाएं बाएं देख और फिर तू निकल।

ये मूल नियम का पालन तू कर,

और अपने आप की सुरक्षा तू कर।

मम्मी पापा के साथ तुम चलो,

हाथों में हाथ डाल के चलो।

जब भी सड़क तुम पार करो,

सड़कों पे कार का आवाजें सूनो।

पार करने के समय तू दौड़ना नहीं,

ज़ेबरा क्रासिंग तू देख तो सही।

हरे सिग्नल की तू परीक्षा कर,

दाएं बाएं देख और फिर तू निकल।

ये मूल नियम का पालन तू कर,

और अपने आप की सुरक्षा तू कर।

सड़क अनुशासन

Poem On Road Safety

दाएं देख बाएं देख,

कूड़ा नहीं सड़क पर फेक,

साइन बोर्ड के पढ़ले लेख।

फिर अपना कदम आगे टेक,

पहले सोच, है जाना कहां,

धीरे चला गाड़ी।

हेलमेट ज़रूर लगा,

मंज़िल की सोच जाना है जहां,

दिखावे में कुछ नहीं रखा।

जीने की तमन्ना ना हो,

तो बात अलग है,

दूसरों की भी सोच।

ध्यान रख ये मेरा मत है,

इन पंक्तियों के जरिए सबको ये खत है,

तू ना बिगड़ भविष्य अपना।

दूसरों का भी ख्याल रखना,

सारे कानून दिमाग में रखना,

सड़क पे चलते वक्त याद उन्हें रखना।

-ऋषि गर्ग

सड़क सुरक्षा

Poem On 

आओं सड़क पर अपनी सुरक्षा करे,

समझदार बने, खुद के रक्षक बने।

सड़क पर हमेशा मास्क लगाकर निकले,

जब चलें, फूटपाथ या जेबरा क्रॉसिंग पर चले।

कार पर बैठे तों सीट बेल्ट लगा ले,

मोटर साईकिल पर हमेशा हेलमेट लगाकर रखे।

लाल लाईट, पीला लाईट

और हरा लाईट का पालन जरूर करे।

अंधाधुंन गाड़ी चलाने से बचें,

बुजुर्गों और दिव्यांगों की सहायता करे,

दाएँ, बाएं आगे और पीछे देखकर चलें।

नींद में गाड़ी, कभी ना चलाए,

गाड़ी चलाते समय मोबाईल,

और नशीली पर्दाथों से दूरी बनाए।

जरूरत और जगह से,

ज्यादा ना पैसेनजर लोड करे,

गाड़ी चलाते समय बिलकुल।

हड़बड़ी और शोर ना करे,

खुश रहे, सुरक्षित रहे,

जोश मे आने से बचे, होश मे रहे।

-शालिनी राय

सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करो

Poem On 

सुन लो चाचा, सुन लो ताऊ,

सुन लो भाई सब जन आज।

सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करो,

और पहनो हेलमेट सा ताज।

हेलमेट पहनो, हेलमेट पहनो,

इस डर से नहीं की पुलिस।

पकड़ेगी चालान कटेगा,

पर इस लिहाज से पहनों क्या?

बीतेगी उस माँ के दिल पर,

जिसने नौ महीने तुम्हे कोख में पाला।

सोचो उस पिता के बारे में,

जिसने तुम्हे कंधे पर झुलाया।

सुन लो चाचा, सुन लो ताऊ,

सुन लो भाई सब जन आज।

सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करो,

और पहनो हेलमेट सा ताज।

याद रखो अपनी पत्नी को जिसने

तुम्हारे नाम का सिन्दूर लगाया।

क्यों भूल जाते हो तुम

अपनी बहन का प्यार,

बचपन की सखा और राखी का त्यौहार।

मत भूलो वो मधुर मुस्कान

और प्यार के बोल,

जो घर आते ही सुनने को मिलते है,

पापा आ गए, पापा आ गए,

दिन भर का सुकून और आपके

जीवन का सरताज।

सुन लो चाचा, सुन लो ताऊ,

सुन लो भाई सब जन आज।

सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करो,

और पहनो हेलमेट सा ताज।

अगर करते हो अपने परिवार से प्यार,

अपने लिए ना सही, अपनों के लिए।

सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करो,

और पहनों हेलमेट सा ताज।

सुन लो चाचा, सुन लो ताऊ,

सुन लो भाई सब जन आज।

सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करो,

और पहनो हेलमेट सा ताज।

सड़क सुरक्षा पर कविता

Poem On 

सड़क पर हमेशा बायीं ओर चलना,

दोनों तरफ देख सड़क पार करना।

ट्रैफिक पुलिस पर देना सदा ध्यान,

जल्दबाजी में न डालना मुश्किल में जान।।

जेब्रा क्रॉसिंग का सदा प्रयोग करना,

पैदल तुम फुटपाथ पर ही चलना।

हेलमेट और सीटबेल्ट है बहुत जरूरी,

मोबाइल, हेडफोन का प्रयोग कभी न करना।।

अस्पताल के पास हॉर्न न बजाना,

मरीजों को असुविधा न पहुँचाना।

फलों के छिलके, नमकीन के पैकेट,

सड़क पर इधर-उधर न बिखराना।।

आदेशात्मक चिन्हों को पहचानो,

सचेतक चिन्हों से सचेत रहो।

सूचनात्मक चिन्हों का रखना ख्याल,

सावधान हमेशा चलते समय रहो।।

सड़क

Sadak Suraksha Par Kavita

सीधे, लम्बे, टेढ़े, मेढ़े दिखती हूँ मैं।

गाँव,गली शहरों में रहती हूँ मैं।।

सब लोगों की भार को सहती हूँ मैं।

कहीं कच्चीकहीं पक्की रहती हूँ मैं।।

कैसे चलना है सड़कों पर बताती हूँ मैं।

संकेतों का पालन करना सिखाती हूँ मैं।।

सावधानी से चलने का गीत गाती हूँ मैं।

लोगों को मंजिल तक पहुँचाती हूँ मैं।।

लाल बत्ती रुकने को कहती हैं हमें।

संयम का पाठ पढ़ाती हैं हमें।।

हरा बती जाने को कहती है हमें।

बायां तरफ चलना सिखाती है हमें।।

पीली बत्ती तैयार कराती हैं हमें।

सड़क दुर्घटना से बचाती हैं हमें।।

-प्रीतम कुमार साहू

सड़क सुरक्षा पर कविता

Sadak Suraksha Par Kavita In Hindi

बच्चो सड़क करो तुम ध्यान से पार

देखो दाएं बाएं,

रखो सुरक्षा का ख्याल।

जान का है इसमें जोखिम,

बिना थामे किसी बड़े का हाथ।

सड़क मत करो तुम पार,

बच्चो सड़क करो तुम ध्यान से पार।

अपने साथ अपने दोस्त का भी

रखो तुम ख्याल,

उनका भी हाथ थामे बिना मत करो

सड़क पार।

धीरे धीरे सफ़ेद पट्टी पर चल के

जाओ उस पार,

लाल बत्ती होने पर ही,

बढ़ाओं रखो अपने कदम।

सड़क पे तुम यार।

बच्चो सड़क करो तुम ध्यान से पार,

देखो दाएं बाएं,

रखो सुरक्षा का ख्याल,

बच्चो सड़क करो तुम ध्यान से पार।

सड़क

Road Safety Poem In Hindi

धूपों-धूपों, छाँवों-छाँवों,

शहरों-शहरों, गाँवों-गाँवों,

गलियाँ-गलियाँ, मोड़-मोड़।

यह तो देती सबको जोड़,

देखो! सबको गले लगाए,

उनको मंजिल तक पहुँचाए।

कहीं साँप जैसी लहराएं,

कहीं तीर सी सीधी जाए,

कहीं धूल-मिट्टी की कच्ची।

कहीं रेत-सीमेंट की पक्की,

इसके तो हैं काम अनेक,

इसके तो है नाम अनेक।

इस पर चलते पशु इंसान,

हो गरीब या हो धनवान,

हरपल इस पर चलते वाहन।

गर्मी, सर्दी या हो सावन,

यह तो कभी नहीं घबराए,

हर पल अपना फर्ज निभाए।

-निर्मला सिंह

सड़क सुरक्षा पर कविता

Poem On 

सड़क बनी है लम्बी चौड़ी,

इसपर जाती मोटर गाड़ी।

बच्चों सभी सभलकर जाओं,

बीच सड़क पर कभी न आओं।

बीच सड़क पर जो जाओगे,

चोट लगी तो पछताओगे।

सड़क बनी है लम्बी चौड़ी,

इसपर जाती मोटर गाड़ी।

बच्चों सभी सभल कर जाओं,

बीच सड़क पर कभी न आओं।

सड़कों की सफाई

Poem On Road Safety In Hindi

आओ सड़कों को साफ करें,

सड़कों को गन्दा न करें।

सड़कों से चलकर स्कूल आते,

सडक से चलकर घर हम जाते।

सड़क किनारे पेड़ लगायें,

सड़कों को फूलों से सजायें।

सड़क होती है लम्बी चौड़ी,

दिखने में लगती साफ सुनहरी।

सड़क साफ हो जहाँ,

लोग चलना पसंद करते हैं वहाँ।

चलो दोस्तों एक कदम उठायें,

सड़कों को साफ कर स्वच्छ बनायें।

-नेहा वर्मा

मुझे उम्मीद है की यह लेख सड़क सुरक्षा पर कविता के बारे में जो जानकारी दी गयी है वो आपको अच्छा लगा होगा, यदि आपको यह post सड़क सुरक्षा पर कविता (Poem On Road Safety In Hindi) पसंद आया है तो कृपया कर इस पोस्ट को Social Media अपने दोस्तों के साथ अधिक से अधिक शेयर करें ताकि उन्हें भी इसके बारे में पूरी जानकारी मिल सके। हमारे वेबसाइट Gyankinagri.com को विजिट करना न भूलें क्योंकि हम इसी तरह के और भी जानकारी आप के लिए लाते रहते हैं। धन्यवाद!!!

Leave a Comment